Flash memory in hindi Guide | फ़्लैश मेमोरी क्या है ?

दोस्तों आज के हमारे पोस्ट का जो विषय है वो है Flash memory (Flash memory in hindi) दोस्तों ये एक विशेष प्रकार की मेमोरी होती है जो CPU अर्थात processor chip के अंदर होती है लेकिन दोस्तों यह पोस्ट आपको तभी अच्छे से समझ में आएगी जब आपको पता होगा की RAM और ROM क्या है ? तो आप इसे जरूर पढ़े। 

दोस्तों फ़्लैश मेमोरी के बारे में आज हम विस्तार से जान्ने वाले है तो आप इस पोस्ट को पूरा जरूर पढ़े ताकि आपसे  फ़्लैश मेमोरी से सम्बंधित कोई भी आवश्यक जानकारी आपसे छूटे न तो चलिए शुरू करते है। 

flash-memory-in-hindi


                                 Flash memory Kya hai ?

यह एक विशेष प्रकार की मेमोरी होती है जो CPU अर्थात Processor  चिप के अंदर होती है यह RAM और ROM दोनों से ही तीव्र गति से कार्य करती है। इस मेमोरी में data storage के लिए Transmitter का उपयोग किया जाता  है,जिसमे नियंत्रण के लिए Gate और floating gate का उपयोग किया जाता है। 

यह processor के लिए interface का कार्य करता है। processor कभी भी RAM या ROM में पड़े data को सीधे execute नहीं करता है , लेकिन Flash memory के data को सीधे execute करता है। 

 Flash memory के प्रकार। Types of flash memory 

Flash memory निम्न दो प्रकार के होते है। 
  1. NOR-Flash memory 
  2. NAND -Flash memory 
1. NOR-flash memory :Intel ने इसे वर्ष 1998 में Processor के उपयोग के लिए बनाया था। इस मेमोरी के Content को मिटने की गति NAND Flash memory की तुलना में काफी कम होती है। लेकिन वर्तमान में अधिकाँश micro-control में इसी फ़्लैश मेमोरी का उपयोग किया जाता है। यह मेमोरी  location में stored data 

को कही से भी प्राप्त कर सकती है Random access सुविधा के कारण इसे ROM BIOS में भी उपयोग किया जाता है। आज के NOR फ्लैश डिवाइस Megabits और कम Gigabits  रेंज की क्षमता के साथ उपलब्ध हैं। डिवाइस के आधार पर, अलग-अलग Bytes या सेक्टर पर डेटा लिखने से पहले उसके डाटा मिटा दिया जाना चाहिए, इसमें 10,000 से 10,00,00 मिटा सकने की क्षमता होती है।  

2.NAND Flash memory:-वर्तमान में इस flash memory का उपयोग Pen-drive और SD-card के रूप में बहुत ाअद्दिक किया जाता है। यह काम जगह में बढे पैमाने  पार data को store करने का साबसे  अच्छा माध्यम हाई साथ ही यह NOR-Flash की तुलना में काफी कम किम्मत की होती है। सबसे पहले इस मेमोरी को Toshiba ने इसे

 वर्ष 1998 में बनाया था।  के Content को एक Block में sequence access किया जाता है। flash Drive में लिखने का कार्य मिटने के कार्य की तरह ही किया जाता है। इसके जिस block को मिटाकर खली छोड़ा गया है उस block डाटा को store कर सकते है। 

जैसे :-NOR-flash में 64 से 128 kb का होता है जिसमे data को मिटने या लिखने में लगभग 5 second का समय लगता है। जबकि NAND-flash में erase block 8 से 32 Bytes का होता है क्योंकि छोटा block होता है इसलिए  मिटने या इसमें लिखने में काफी कम समय खर्च होता है। 

यह भी पढ़े :-

Conclusion:
दोस्तों इस पोस्ट में हमने Flash memory से सम्बंधित सभी आवश्यक जानकारियों को देने का  प्रयास किया है अगर फिर भी आपको  लगता है की इस पोस्ट में हमसे कोई जानकारी छूट गई है या किसी प्रकार की सुधार करने की जरूरत है तो आप हमें जरूर बताये आपको हमारा आज का ये पोस्ट  Flash memory in hindi Guide | फ़्लैश मेमोरी क्या है ? कैसी लगी कृपया comment में जरूर बताये। 

Post a Comment

0 Comments